Planning to travel with children? These food tips should help

आसान सुझाव जो सफ़र के दौरान गर्भवती महिला के जीवन को आसान बनाते हैं

गर्भावस्था में कई तरह के शारीरिक और मानसिक बदलाव होते हैं, गर्भावस्था के शुरुआती दिनों में सफ़र करने से आपको कई अनचाहे अनुभवों से गुज़रना पड़ सकता है। सबसे पहला सवाल जो आपके दिमाग़ में आता है; "क्या गर्भावस्था के दौरान सफ़र करना सुरक्षित है?"

हालांकि किसी भी दूसरी यात्रा की तरह गर्भावस्था में भी सफ़र किया जा सकता है, लेकिन इसके लिए पहले से ही योजना बनाना ज़रूरी है, ख़ासकर जब आप अकेले कहीं जा रहे हों! गर्भावस्था के दौरान अपने सफ़र को सुरक्षित और सुखद बनाने के लिए आप नीचे दी गई चेकलिस्ट अपना सकती हैं:

  • सबसे पहला काम जो आपको करना चाहिए वो है अपने डॉक्टर (गाइनकालजिस्ट) से मिलना। जांच करें, अपने मापदंडों (पैरामीटर्स) को देखें, ध्यान रखें कि आपने अपने सभी इंजेक्शंस (टीकाकरण) समय पर करवाए हैं, अगर ज़रूरी हो तो नया प्रिस्क्रिप्शन डॉक्टर से लें, डॉक्टर द्वारा बताई गई हर छोटी से छोटी बात का ध्यान रखें।
  • एक मेडिकल किट आपने साथ रखें। डॉक्टर द्वारा बताई गई सभी दवाएँ, सभी ज़रूरी सामान, और फर्स्ट ऐड बॉक्स साथ लेकर चलें। घर से बाहर, सफ़र के दौरान ये मेडिकल किट हमेशा अपने साथ रखें।
  • उन सभी ऐप और वेबसाइट की लिस्ट अपने पास रखें जो आपको डेस्टिनेशन (जिस जगह आप घूमने जा रहे हैं) की सही दूरी और रास्ता बताने , समय बचाने और किसी भी तरह के तनाव को कम करने के साथ-साथ इलाज की सुविधा, सेहतमंद खाना चुनने की सुविधा, किसी भी जगह की जानकारी, टाइम टेबल बनाने की सुविधा आदि दे। जिन जगहों पर आप घूमने जा रहे हैं, उनकी जानकारी और वहाँ तक पहुँचने वाले रास्ते के बारे में पहले से पता करके रखने से न केवल आपको इन जगहों पर घूमने-फिरने में आसानी होगी बल्कि इससे आप बेवजह होने वाले ख़र्चे और टेंशन से भी बच सकेंगे। अचानक बने घूमने के प्लान के हिसाब से कभी भी सफ़र ना करें।
  • ज़रूरत से ज़्यादा सामान के साथ सफ़र न करें। जितना हो सके, उतना कम सामान साथ में ले जाएं। किसी भी तरह के, काम न आने वाले कपड़े, सूती कपड़े, और जूते जैसी चीज़े ले जाने से बचें।
  • इमरजेंसी कॉन्टैक्ट्स को अपने फ़ोन के स्पीड डायल पर रखें जिनको किसी भी समय ज़रूरत पड़ने पर, कोई भी व्यक्ति आपके फ़ोन से संपर्क कर सके। इमरजेंसी के दौरान इलाज की ज़रूरत होने पर आपके पास, मेडिकल हेल्पलाइन से जुड़े नंबर की लिस्ट भी होनी चाहिए।
  • सभी ज़रूरी सामान की पैकिंग पहले से कर लें। आख़री समय पर पैकिंग करने से आप कई ज़रूरी सामान रखना भूल सकती हैं और सफ़र पर निकलने से पहले अचानक से ये चीज़ें आपको याद आ सकती हैं। अपनी एनर्जी को बचा कर रखना सबसे ज़रूरी है।

अपनी चेकलिस्ट को टिक करना इस बात पर निर्भर करेगा कि आप किस साधन से सफ़र कर रहे हैं

  • उदाहरण के लिए, गर्भावस्था के दौरान क्या कार से यात्रा करना सुरक्षित है? कार से यात्रा करने के लिए आपको एक आरामदायक और सहारा देने वाली पोज़ीशन की ज़रूरत होगी, पैरों को फ़ैलाने के लिए भी पर्याप्त जगह चाहिए होगी और सीट बेल्ट पेट के ठीक नीचे बांधने की ज़रूरत होगी। यदि कार आप ख़ुद चलाने जा रहीं है तो समय से पहले घर से निकलें ताकि आप आराम और शांतिपूर्ण तरीक़े से ड्राइव कर सकें। गर्भावस्था में कार से लम्बी दूरी तय करना अच्छा आईडिया नहीं होगा। अगर आपके पास समय से पहले निकलने की गुंजाईश नहीं है तो ड्राइविंग के दौरान बीच-बीच में ब्रेक लें और कार से उतरकर शरीर को थोड़ा स्ट्रैच करें।
  • बस से सफ़र और बुकिंग करने से पहले आपको थोड़ी छानबीन करने की ज़रूरत होती है। सफ़र के लिए ए.सी वाली और समय पर पहुँचने वाली बस ही बुक करें जो आरामदायक भी हो ताकि किसी प्रकार के झटके न लगें साथ ही बस के अंदर के टेम्प्रेचर को कन्ट्रोल करती हो। विंडो सीट की जगह, बाहर वाली सीट की बुकिंग करने से आप को बीच- बीच में खड़े होने में मदद मिल सकती है। गर्भावस्था में हवाई जहाज़ से सफ़र करते समय भी इन्ही बातों का ध्यान रखें। हालाँकि हवाई जहाज़ से सफ़र करने के लिए, टिकट बुकिंग के दौरान कई एयरलाइन्स कंपनियों और देशों ने गर्भावस्था की स्थिति में कम समय की दूरी तय करने के नियम बनाएं है, जिनका ध्यान रखना होता है। ये दोहराने की ज़रूरत नहीं है कि सफ़र करते समय सीटबेल्ट लगाना बहुत ज़रूरी है।
  • यदि आपने क्रूज़ से घूमने का प्लान बनाया है तो इस बात का पता ज़रूर लगा लें कि क्रूज़ में इमरजेंसी इलाज से जुड़ी मदद करने के लिए एक डॉक्टर पहले से वहाँ हों। ये भी पता लगा लें कि हर पड़ाव पर इलाज से जुड़ी सभी तरह की सुविधा उपलब्ध हो। आख़िर में, समुद्री रास्ते पर वायरस का ख़तरा होता है जिससे संक्रमण हो सकता है, इसलिए ख़ुद को हर वक़्त साफ-सुथरा रखें।
  • आख़िर में, आपके सेहत और आपकी यात्रा के तरीके के हिसाब से सही चीज़ खाना ज़रूरी है। साफ़, फ़िल्टर्ड पानी लें और हमेशा पर्याप्त रूप से हाइड्रेटेड रहें। उन फलों को ज़्यादा रखें जिन्हें छीलकर खाया जा सके या अच्छी तरह से पकी हुई सब्ज़ियां रख सकती हैं। अगर आप दूध रखना चाहती हैं, तो ध्यान रखें कि यह होमोजिनेटेड (जिसमें क्रीम नहीं बनती हो), पास्चुरीकृत है और इसे अच्छे से पैक किया गया हो। बीच-बीच में स्नैक्स (नाश्ता) खाने से आप दोनों को अनचाही भूख से आराम मिलेगा। फिर भी, सेहतमंद चीज़ें ही खाने की कोशिश करें और ज़रूरत से ज़्यादा नमक, शक्कर, प्रोसेस किया हुआ आटा और फैट वाली चीज़ें न खाएं। लम्बी यात्रा के दौरान साफ़-सफ़ाई को ध्यान में रखते हुए, मांसाहारी चीज़ें न ही साथ में रखें , न बनाएं और न ही खाएं।

अगर गर्भावस्था के दौरान कोई भी समस्या नहीं आ रही है या आप जहां घूमने जा रहे हैं, वहाँ किसी भी प्रकार का वायरल संक्रमण नहीं फैला है या कोई प्राकृतिक आपदा नहीं हुई है, तो गर्भावस्था में सफ़र करने के लिए आप पूरी तरह आज़ाद हैं। आपकी यात्रा सुरक्षित हो और भविष्य में अपने बच्चे को दिखाने के लिए आपके पास ढेर सारी अच्छी यादें हों, इसलिए अपनी इस यात्रा का पूरा मज़ा लें।

Ready to Follow Healthy Life

You can browse our entire catalog of healthy recipes curated by a registered
dietician and professional food team.

Sign up