Folic acid: A must-have nutrient for babies

फ़ॉलिक एसिड: शिशुओं के लिए एक आवश्यक पोषक तत्व

गर्भावस्था के दौरान पोषण के लिए अक्सर फ़ॉलिक एसिड या फ़ोलेट, एक तरह के विटामिन बी, लेने की जाती है। आपके डॉक्टर ने आपको इसे न छोड़ने के लिए कहा होगा। लेकिन क्या आप जानती हैं कि फ़ॉलिक एसिड के फ़ायदे गर्भावस्था तक ही सीमित नहीं हैं? यह जन्म के बाद भी बच्चे के जीवन में एक महत्वपूर्ण भूमिका निभाता है। यह लेख आपको विस्तार से बताएगा कि इस सूक्ष्म पोषक तत्व पर ज़्यादा ध्यान देने से यह आपके बच्चे के विकास के लिए अद्भुत काम क्यों कर सकता है।

फ़ॉलिक एसिड आपके बच्चे की वृद्धि और विकास के लिए क्यों महत्वपूर्ण है?

कभी न्यूरल ट्यूब के बारे में सुना है? न्यूरल ट्यूब एक खोखली संरचना होती है, जो टिश्यू से बनी होती है और यही बाद में मस्तिष्क, रीढ़ की हड्डी और नर्वस सिस्टम बनाती है। गर्भावस्था के शुरूआती पड़ाव के दौरान न्यूरल ट्यूब, जो सपाट संरचना होती है, ट्यूब के आकार में बंद होनी शुरू हो जाती है और रीढ़ की हड्डी और मस्तिष्क के बीच संचार का काम करती है। फ़ॉलिक एसिड इस काम के लिए महत्वपूर्ण पोषक तत्व है।

फ़ॉलिक एसिड की कमी से न्यूरल ट्यूब दोष (NTDs) नामक दोष हो जाता है। उदाहरण के लिए, रीढ़ की हड्डी पूरी तरह से बंद नहीं होती, जिससे नसों को क्षति और पक्षाघात (जिसे स्पाइना बिफ़िडा कहा जाता है) हो जाता है या मस्तिष्क और खोपड़ी का एक प्रमुख हिस्सा विकसित नहीं होता, जिसे अभिमस्तिष्कता (anencephaly) कहा जाता है।

images

शैशव अवस्था के दौरान, मस्तिष्क तेज़ गति से बढ़ता है। असल में मस्तिष्क एक वर्ष की आयु तक आकार में दोगुना हो जाता है और तीन वर्ष की आयु तक अपने वयस्क रूप के 80% तक पहुँच जाता है! एक रिपोर्ट के अनुसार, फ़ॉलिक एसिड मस्तिष्क के विकास के लिए फ़ायदेमंद पोषक तत्व है, इसलिए शिशुओं के लिए बहुत ज़रूरी है। इस पोषक तत्व का संबंध अच्छी याद्दाश्त से है। जब बच्चा हर दिन नई चीज़ें सीख रहा होता है, तो आपको इस बात का ध्यान रखना चाहिए कि उसे पर्याप्त मात्रा में फ़ॉलिक एसिड प्राप्त मिले।

फ़ॉलिक एसिड कोशिकाओं और टिश्यू के विकास और कार्य में भी मदद करता है, जिससे यह शैशव अवस्था के लिए एक महत्वपूर्ण पोषक तत्व बनता है। यह लाल रक्त कोशिकाओं और हीमोग्लोबिन के निर्माण के लिए आवश्यक है, जिससे शिशु के शरीर के सभी अंगों को खून और पोषक तत्व मिलते हैं। फ़ॉलिक एसिड सफ़ेद रक्त कोशिकाओं के निर्माण में सहायक होता है, जो शरीर को इंफ़ेक्शन से लड़ने में मदद करते हैं, विशेष रूप से यह नवजात शिशुओं के लिए आवश्यक है क्योंकि वे कमज़ोर अवस्था में होते हैं।

आहार के माध्यम से शिशुओं के लिए फ़ॉलिक एसिड का पर्याप्त सेवन सुनिश्चित करने के तरीके

बच्चे के विकास के लिए फ़ॉलिक एसिड के कई लाभों के बारे में पढ़ने के बाद, एक माँ के रूप में, आप सोच रही होंगी कि यह कैसे सुनिश्चित करें कि आपके शिशु को फ़ॉलिक एसिड की पर्याप्त मात्रा मिल सके। शिशु के जन्म के बाद पहले छह महीनों में, स्तनपान कराने वाली माँ होने के नाते आपको इस पोषक तत्व से भरपूर खाद्य पदार्थ खाने चाहिए, ताकि ब्रेस्टमिल्क के ज़रिये यह पोषक तत्व आपके शिशु को भी मिल सके। छह महीने की उम्र के बाद, जब शिशु को ऊपरी आहार दिया जाता है, तो आपको यह सुनिश्चित करना चाहिए कि बच्चे के आहार में पर्याप्त फ़ॉलिक एसिड हो। नीचे कुछ ऐसे खाद्य पदार्थों के बारे में बताया जा रहा है जो फ़ॉलिक एसिड का प्रमुख स्रोत हैं:

पालक जैसी हरी पत्तेदार सब्जियों में फ़ॉलिक एसिड काफ़ी मात्रा में पाया जाता है और इसका सूप बनाकर शिशु के आहार में शामिल किया जा सकता है।

  • फलियों जैसे बीन्स और दालों में फ़ॉलिक एसिड अच्छी मात्रा में होता है और इन्हें प्रेशर कुकर में उबालकर अच्छे से मसलकर दलिया में डाला जा सकता है। बच्चों के लिए एक पौष्टिक पूरक आहार साबित होगा।
  • प्रोटीन और अन्य ज़रूरी पोषक तत्वों से भरपूर, अंडे भी फ़ोलेट का एक बड़ा स्रोत हैं। आप कस्टर्ड में अंडे डालकर कस्टर्ड का पोषण भी बढ़ा सकते हैं।
  • केले और पपीते ऐसे फल हैं, जिनमें फ़ोलेट उच्च मात्रा में होता है। मिल्कशेक या पुडिंग में ये फल डाल सकते हैं या ऐसे आकार में काटकर दिए सकते हैं कि ये बच्चे के गले में ना फसें।

फ़ॉलिक एसिड वाले मुख्य खाद्य पदार्थ

ऊपर बताए गए खाद्य पदार्थों के अलावा, खाने की कुछ और चीज़ें भी हैं, जिनमें फोलिक की भरपूर मात्रा होती है जिन्हें बच्चे की दैनिक आवश्यकताओं को पूरा करने के लिए आहार में शामिल किया जा सकता है। इनमें किडनी बीन्स (राजमा), ब्लैक-आइड पीज़ (लोबिया), काबुली चने, मटर, मेवे जैसे अखरोट, क्रूसीफ़ेरस वेजीज़ जैसे ब्रोकोली और एवोकाडो और आम जैसे फल शामिल हैं।

इसलिए, नई माताओं या जो माँ बनने वाली हैं, अब जब आप इस महत्वपूर्ण विटामिन के बारे में जानती हैं, तो अपने बच्चे को स्मार्ट और स्वस्थ बनाने के लिए उसके आहार में फ़ॉलिक एसिड युक्त खाद्य पदार्थ शामिल करना न भूलें।

संदर्भ: