क्या बच्चों को पीना चाहिए ग्रीन टी?

स्वास्थ्य के प्रति जागरूक वयस्क अक्सर अपने शरीर को डिटॉक्स करने, हल्का और ताज़ा महसूस करने और मोटापे और अन्य जीवनशैली रोगों को दूर रखने के लिए ग्रीन टी का आनंद लेते हैं। हालाँकि, यह ग्रीन टी बच्चों के लिए सही है या नहीं, यह एक अलग विषय है। ग्रीन टी कैमेलिया साइनेंसिस पौधे की पत्तियों से मिलता है और इसके उत्पादन के लिए इन पत्तियों को भाप से पकाया जाता है और पैन फ्राई किया जाता है। पत्तियों को सुखाकर ग्रीन टी बनती है। इस चाय की भीनी-भीनी खुशबू से मानसिक सतर्कता बढ़ती है। तो क्या आप अपने बच्चे को यह ग्रीन टी पिला सकते हैं या नहीं यह जानने के लिए लेख पूरा पढ़ें।

ग्रीन टी के फ़ायदे

  • इससे खून की धमनियों में रुकावट कम होती है और कार्डियोवस्कुलर स्वास्थ्य को भी सही रखता है जो आने वाले सालों में आपके लिए बेहद फ़ायदेमंद हो सकता है। 

  • ग्रीन टी में अत्यधिक मात्रा में एंटीऑक्सीडेंट पाए जाते हैं जिनसे कुछ कैंसर का ख़तरा भी कम होता है।

  • इससे आप हाई ब्लड शुगर, हाई ब्लड प्रेशर और हाई कॉलेस्ट्रॉल जैसी समस्याओं से बचे रह सकते हैं।

क्या ग्रीन टी बच्चों के लिए सही है

वैसे तो ग्रीन टी अक्सर वयस्क ही पीते हैं लेकिन अगर आप अपने बच्चों को भी ग्रीन टी पिलाना चाहते हैं तो आपको इस चाय की मात्रा कम ही रखनी चाहिए। बच्चों को एक दिन में एक कप से ज़्यादा ग्रीन टी न दें क्योंकि उनके स्वास्थ्य पर इसका बुरा असर पड़ सकता है। अगर आप बच्चे को ज़्यादा मात्रा में ग्रीन टी देते हैं तो उसका पेट ख़राब, क़ब्ज़ और लिवर ख़राब होने जैसी समस्याएँ हो सकती हैं। 

अन्य सभी कैफ़ीन युक्त पदार्थ की तरह अगर अत्यधिक मात्रा में ग्रीन टी का सेवन किया जाए तो इससे भी बच्चों में कम नींद, एकाग्रता की कमी, चिड़चिड़ापन, या बेचैनी जैसी समस्याएँ हो सकती हैं। हालांकि ग्रीन टी में चाय और कॉफ़ी की तुलना में कम कैफ़ीन होता है।

बच्चों के लिए ग्रीन टी के फ़ायदे

  • अगर बच्चों को थकान या कम ऊर्जा की शिकायत है तो आप कम मात्रा में ग्रीन टी दे सकते हैं क्योंकि इसमें कैफ़ीन होता है जो प्राकृतिक रूप से ऊर्जा देता है। 

  • ग्रीन टी एंटीऑक्सीडेंट से भरपूर होता है और इसमें कैटेचिन और अमीनो एसिड थेनाइन भी पाए जाते हैं। तो इससे सर्दी ज़ुकाम सही करने में भी मदद मिलती है।

  • ग्रीन टी में एल-थेनाइन भी पाया जाता है जो जापानी चाय का मुख्य हिस्सा होता है और इससे एकाग्रता बढ़ाने में मदद मिलेगी। इससे चिंता भी कम होती है। 

  • ग्रीन टी की एंटीऑक्सीडेंट शक्ति आपके बच्चे के बालों और त्वचा के लिए भी बेहद फ़ायदेमंद है। इस चाय में पॉलीफेनॉल होते हैं जो बालों को मजबूती देते हैं।

  • ग्रीन टी से बच्चों की प्रतिरक्षा क्षमता भी बढ़ती है।

  •  ऐसा माना गया है कि ग्रीन टी में मौजूद कैटेचिन से बच्चों में बदबूदार साँस और दाँत की कैविटी जैसी समस्याओं को ख़त्म किया जा सकता है।

  • ग्रीन टी से बचपन का मोटापा भी कम किया जा सकता है और जापानी ग्रीन टी बच्चों में मेटाबॉलिज्म की प्रक्रिया को बढ़ाती है।

ज़्यादा ग्रीन टी पीने के नुक्सान

  • ग्रीन टी का अत्यधिक सेवन कुछ बच्चों में बेचैनी के साथ साथ थकान, नींद की कमी, दस्त, उल्टी, चिड़चिड़ापन और सीने की जलन जैसी समस्या पैदा कर सकता है। 

  • कैफ़ीन की अत्यधिक मात्रा से आपके बच्चे के शरीर में आयरन की कमी हो सकती है जो भविष्य में एनीमिया का कारण बन सकता है।

  • अत्यधिक मात्रा में ग्रीन टी पीने से बच्चों की हड्डियों की डेंसिटी पर भी असर पड़ता है क्योंकि इसके कारण यूरीन में कैल्शियम भी निकलता है। 

  • कुछ बच्चों को ग्रीन टी से एलर्जी हो सकती है और उनके शरीर में रैशेज़ हो सकते हैं। 

  • ग्रीन टी में ऑक्सेलिक एसिड अत्यधिक मात्रा में होते हैं जो भविष्य में किडनी स्टोन (पथरी) के ख़तरे को बढ़ा सकते हैं।

अंत में

आजकल बाज़ार में अलग अलग प्रकार की ग्रीन टी उपलब्ध हैं ताकि आप अपने बच्चों के लिए सबसे कम कैफ़ीन वाली चाय आसानी से चुन सकती हैं। ऐसा करने के लिए आपको ग्रीन टी के डब्बे या पैकेट का लेबल बहुत ध्यान से पढ़ना होगा। हालाँकि वयस्कों के लिए ग्रीन टी के बहुत सारे फ़ायदे हैं लेकिन फिर भी अत्यधिक मात्रा में ग्रीन टी पीने से आपको बेचैनी हो सकती है। लेकिन पर्याप्त मात्रा में ग्रीन टी के सेवन से बच्चों को सर्दी ज़ुकाम की शिकायत नहीं रहेगी और उन्हें ऊर्जा और एकाग्रता भी मिलेगी।

हेल्दी लाइफ़ को फ़ॉलो करने के लिए तैयार हैं?

अब और इंतज़ार न करें और एक कदम आगे बढ़ें!

साइन अप करें