Food pairings that help you maximize nutrient absorption

इन चीज़ों को मिलाकर खाने से मिलता है भरपूर पोषण

अपने बच्चों को एक सेहतमंद ज़िंदगी देने के लिए आपको हमेशा इस बात का ध्यान रखना चाहिए कि जो चीज़ें वह रोज़ खाते हैं उनसे उन्हें सभी ज़रूरी पोषक तत्व मिलें। ये आमतौर पर खायी जाने वाली चीज़ें हो सकती हैं जो लोकल और उस मौसम में मिलने वाली हों। इसलिए, अपने बच्चे को पूरा पोषण देने के लिए ज़रूरी नहीं की आप उसे कोई खास चीज़ ही खाने को दें। आमतौर पर मिलने वाली तरह-तरह की चीज़ों को जब एक-दूसरे के साथ मिलाकर खाया जाता है तो इससे काफ़ी सारा पोषण मिलता है। उदाहरण के लिए, किसी दूसरी पकी हुई चीज़ के साथ, ताज़ी और कच्ची सब्जियों को मिलाकर खाने से पोषक तत्वों का अवशोषण अधिक होता है। तरह-तरह के रंग और बनावट की चीज़ें खाने से, बच्चों को भरपूर स्वाद और पोषण दोनों ही मिलते हैं। 

नीचे पोषण से संबंधित कुछ ज़रूरी बातें दी गई हैं:

  • आमतौर पर पोषक तत्वों का मतलब खाने में कैलोरी (कार्बोहाइड्रेट, प्रोटीन, फैट), विटामिन (विटामिन ए, सी, डी, ई, के और बी कॉम्प्लेक्स), मिनरल (कैल्शियम, ज़िंक, नियासिन, सल्फर, फास्फोरस आदि), एंटीऑक्सीडेंट (एंथोसिनानिन, बीटा-कैरोटीन, कैटेचिन आदि) और फोटोकेमिकल्स (फ्लेवोनोइड्स, फ्लेवोनोल्स आदि) होता है।
  • हमारा शरीर पोषक तत्वों को कितनी आसानी से सोखता है, इसके साथ ही सभी पोषक तत्वों की बायोअवेलेबिलिटी (किसी दवाई या चीज़ की उसकी काम करने वाली जगह पर मौजूदगी को मापना) भी बहुत ज़रूरी है।

खाने की सबसे अच्छी चीज़ें जिनको एक-साथ मिलाने से पोषण बढ़ता है 

पोषण को बढ़ाने वाली सबसे बेहतरीन खाने की चीज़ों के कॉम्बिनेशन (दो या ज़्यादा चीज़ों को एक साथ मिलाना) नीचे दिए गए हैं:

  • नॉन-हीम आयरन (लौह) और विटामिन सी - पौधों से मिलने वाले आयरन (लौह) को बच्चों का शरीर ठीक तरह से नहीं सोख पाता है। इसलिए, नॉन-हीम आयरन (लौह) को विटामिन-सी के साथ खाने से ज़्यादा और आसानी से पोषण मिलता है, विटामिन-सी आयरन (लौह) को शरीर में आसानी से सोखने में मदद करता है। हरी पत्तेदार सब्जियों में नींबू की कुछ बूंदे या सन्तरे का रस मिलाकर, या मसूर की दाल या सोया से बनी चीज़ों में कटे हुए सेब मिलाकर खाने से, आयरन (लौह) को शरीर में आसानी से सोखने में मदद मिलती है।
  • टमाटर के साथ जैतून का तेल - टमाटर में लाइकोपीन होते हैं, जो बीमारियों से लड़ने के लिए एंटीऑक्सीडेंट का काम करते हैं, ऐसा भी माना जाता है कि ये प्रोस्टेट कैंसर से बचाते हैं। कच्चे टमाटर या पके हुए टमाटर पर जैतून का तेल छिड़क कर खाने से शरीर में फोटोकैमिकल के अवशोषण को बढ़ाया जा सकता है।
  • काली मिर्च के साथ हल्दी - हल्दी में बहुत शक्तिशाली एंटीऑक्सीडेंट होते हैं और इनमें एंटी-इंफ्लेमेटरी गुण होते हैं जो गठिया की बीमारी में फ़ायदेमंद होते हैं और किडनी के लिए भी अच्छे होते हैं। और काली मिर्च से हल्दी के फ़ायदे और बढ़ जाते हैं। इसलिए, अगर इन दोनों को एक साथ खाया जाए, तो पोषक तत्वों की बायोअवेलेबिलिटी बढ़ जाती है। ये खाने के स्वाद को भी बढ़ाते हैं। उदाहरण के लिए, आप अपनी इम्युनिटी (रोगों से लड़ने की शक्ति) को बढ़ाने के लिए ग्रीन टी को हल्दी और काली मिर्च के साथ बना सकते हैं, या फलों और सब्जियों का सलाद बनाकर आप इसके ऊपर हल्दी और काली मिर्च छिड़क सकते हैं।
  • विटामिन और खनिज का मिश्रण - अगर विटामिन डी और कैल्शियम को एक साथ खाया जाए तो ये हड्डियों की सेहत को बढ़ा सकते हैं। हमारे द्वारा खायी गई चीज़ों से ज़्यादा कैल्शियम विटामिन-डी में होता है। विशेषज्ञों के मुताबिक, विटामिन -डी के असर से बच्चों के आँतों में डाइट्री कैल्शियम का अवशोषण बढ़ता है। विटामिन -डी से भरपूर खाने की चीज़ों को अंडे के पीले भाग, दूध, सोया मिल्क, या संतरे के जूस के साथ मिलाकर खाने से भरपूर पोषण मिलता है। इसके अलावा, अपने बच्चे के खाने में कैल्शियम से भरपूर तरह-तरह की चीज़ें शामिल करें, जैसे कि साग, ब्रोकली, संतरे, सूखे अंजीर, और दूध से बनी चीज़ें। उदाहरण के लिए, आप अंडे की भुर्जी के साथ टॉस की हुई सब्जियां दे सकते हैं।
  • प्रोटीन मिश्रण - अच्छे पोषक तत्वों या ज़रूरी अमीनो एसिड को सोखने के लिए अलग-अलग चीज़ों से अलग-अलग तरह का प्रोटीन लेना बहुत ज़रूरी होता है। अच्छा और पूरा प्रोटीन जानवरों से मिलने वाली चीज़ों में पाया जाता है, जैसे मीट, पोल्ट्री (मुर्गे का मांस), अंडे, दूध (और इससे बनी चीज़ें) और मछली। इन्हें सोया और नट्स जैसी अच्छी शाकाहारी प्रोटीन वाली चीज़ों के साथ भी खाया जा सकता है। इस बात का हमेशा ध्यान रखें कि पौधों से मिलने वाला प्रोटीन हमेशा अधूरा होता है और उसमें ज़रूरी अमीनो एसिड की भी कमी होती है। इसलिए, आप चावल को काले बीन्स के साथ, गेहूँ की रोटी के साथ हम्मस, कॉर्न के साथ किनोआ, और ब्रेड के साथ पीनट बटर, खा सकते हैं।
  • फैट और फैट में घुलने वाले विटामिन का कॉम्बिनेशन - कुछ विटामिन फैट में घुल जाते हैं, जैसे ए, डी, ई, और के। फैट से भरपूर चीज़ों के साथ इन्हें मिलाने से ये शरीर द्वारा आसानी से सोखे जा सकते हैं। याद रखिये की इन विटामिन की कमी से कैंसर और टाइप 2 डाइबिटीज़ जैसी बीमारी हो सकती है। इसलिए, अपने बच्चों को दूसरी हरी पत्तेदार सब्जियों के साथ नट्स, सीड, एवोकैडो या जैतून खिलाएं। बटर और जेली सैंडविच के साथ दूध दें। हरी पत्तेदार सब्जियों, जो विटामिन ए और ई से भरपूर हों, को नट्स और सीड्स के साथ खिला सकते हैं।

हमेशा यह सलाह दी जाती है कि ताज़ी और आर्गेनिक सब्जियों और फलों के लिए आप अपने घर में ही एक छोटा सा बगीचा बना लें, जो बाज़ार में मिलने वाली नकली तरीके से उगाई गयी और कीटनाशकों वाली खाने की चीज़ों से ज़्यादा अच्छा पोषण देंगी। और इस तरह, आप अपने बच्चों की इम्युनिटी और ताकत को बढ़ाने के लिए अपनी पसंद की चीज़ों को मिलाकर बना खाना खिला सकते हैं।